बारिश के रंग : प्रमोद पाठक

बारिश के रंग बारिश के रंग जिस तरहफूल-पत्तियों और घासों में खिलते हैंठीक उसी तरहहमारे हाथों में खिलते हैंजिस तरह भीगती लकड़ी परकुकुरमुत्ते उग आते हैंहमारे भीगे हुए हाथों में छाते उग आते हैंइस तरह भीगती लकड़ी से मुलायम हुए हाथअपना छाता लिएदूसरे भीगते हुए हाथों की तरफ़ झुक जाते हैंफिर एक छाते में दो…

Read More