मिली हवाओं में उड़ने की – वसीम बरेलवी

मिली हवाओं में उड़ने की – वसीम बरेलवी

मिली हवाओं में उड़ने की वो सज़ा यारो के मैं ज़मीन के रिश्तों से कट गया यारो वो बेख़याल मुसाफ़िर … Continue reading मिली हवाओं में उड़ने की – वसीम बरेलवी